अब 13 अंको का होगा मोबाइल नंबर!

बीएसएनएल के एक वरिष्ठ अधिकार ने कहा है कि, जुलाई 2018 से मोबाइल नंबर 13 अंको के होंगे. 8जनवरी को दूरसंचार विभाग ने एक निर्देश जारी कर टेलीकॉम ऑपरेटर्स को इस पर काम करने के लिए कहा है. जानकारी के अनुसार दूरसंचार विभाग ने इस संबंध में सभी टेलीकॉम ऑपरेटरों को निर्देश जारी किया है. जिसमें उन्हें यूजर्स को 13अंको का मोबाइल नंबर जारी करने को कहा गया है.

टेलिकॉम कंपनियों के आग्रह पर फैसला

 दूरसंचार विभाग ने टेलिकॉम कंपनियों के आग्रह पर 13 अंकों के मोबाइल नंबर सिम एमटूएम (मशीन टू मशीन) सर्विस के लिए शुरू करने का फैसला किया है. वहीं 13 अंकों मोबाइल नंबर आने से आपके मोबाइल पर कोई असर नहीं पड़ेगा. और दस अंकों के मोबाइल नंबर भी जारी रहेंगे.  दूरसंचार विभाग ने कहा कि, भारत में एयरटेल, वोडाफोन,रिलायंस, बीएसएनएल जैसी कंपनियों ने हमें चिट्ठी लिखकर आग्रह किया कि, उन्हें 13अंकों के नंबर जारी करने का आदेश दिया जाए.

 M2M मोबाइल कनेक्शन को मिलेगा ये नंबर

दूरसंचार विभाग ने एम टू एम सुविधा के लिए13 अंकों के नंबर को लागू करने का फैसला लिया है. यह सुविधा 1जुलाई 2018  से लागू होगी. सिर्फ एम टू एम मोबाइल कनेक्शन को ही 13 अंको का नंबर मिलेगा. दूरसंचार विभाग ने यह आदेश दिया कि सभी टेलीकॉम कंपनियां तय तारीख से पहले खुद को तैयार कर लें ताकि कोई तकनीकी समस्या ना हो. अक्टूबर से इसे शुरू किया जायेगा. सारे टेस्ट और तकनीकी मजबूती के बाद इसे 31 दिसंबर से पूरी तरह लागू कर दिया जायेगा.

तकनीक में होगा बदलाव

अभी तक जो जानकारी सामने आ रही है उसके मुताबिक टेलीकॉम ऑपरेटर्स के साथ मोबाइल हैंडसेट बनाने वाली कंपनियों को 13अंकों के नंबर के हिसाब से सॉफ्टवेयर बनाने और पुराने हैंडसेट के सॉफ्टवेयर बदलने के निर्देश दिए गए हैं.

सबसे ज्यादा अंकों में मोबाइल नंबर वाला देश होगा भारत

दूरसंचार विभाग का ये निर्देश अगर 1 जुलाई से लागू हो जाता है तो भारत दुनिया का सबसे ज्यादा अंकों में मोबाइल नंबर वितरित करने वाला देश बन जाएगा. अभी तक इस स्थान पर चीन काबिज है जहां लोगों को 11 अंकों के मोबाइल नंबर वितरित किए जाते हैं. बता दें कि इस नंबर में देश का कोड की गिनती नहीं हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here