शिवराज का मंत्रिमंडल का विस्तार ,कांग्रेस ने की EC में शिकायत

0
90
SHIV cabinate

[भोपाल] उपचुनाव से पहले सीएम शिवराज कैबिनेट का विस्तार करने जा रहे है. आपको बता दें कि, शिवराज सिंह चौहान ने एक दिन पहले राज्यपाल आनंदी बेनपटेल से मुलाकात की थी. इसके बाद बाद मंत्रिमंडल विस्तार की सुगबुगाहट तेज हो गई है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार , राज्यपाल आनंदी बेनपटेल और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मुलाकात के बाद सीएम ने राजभवन से मंत्रिमंडल विस्तार के लिए समय मांगा है. बताया जा रहा है किशिवराज सरकार में नए मंत्रियों का शपथ ग्रहण समारोह शनिवार सुबह 9.30 बजे राजभवन में हो सकता है. वहीं गोपाल जाटव, सुदर्शन गुप्ता, रामेशमेंदोले, रजना बघेल, यशपाल सिंह सिसोदिया, और केदार शुक्ल के नाम सबसे आगे है.

आपको बता दें कि, विधानसभा उपचुनाव, जातिगत और क्षेत्रीय समीकरणों के चलते टल रहा था. मंत्रिमंडल का विस्तार मुंगावली एवं कोलारस विस उपचुनाव से पहले होने जा रहा है. करीब 4 विधायकों को मंत्री बनाया जा सकता है.

 इससे पहले सीएम शिवराज ने मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर शीतकालीन सत्र संकेत दिए थे. भाजपा संगठन पदाधिकारी के अनुसार अगले विधानसभा  चुनाव से करीब 8 महीने पहले होने वाला मंत्रिमंडल पूरी तरह से एडजस्टमेंट हो जाएगा.जिसमें क्षेत्रीय, जातीय समीकरणों का पूरा ध्यान रखा जाएगा.

 सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शुरू के मंत्रिमंडल में 23 मंत्रियों को शपथ दिलाई. इसके बाद 20 जून 2016 को मंत्रिमंडल विस्तार किया गया था. जिसमें 4 कैबिनेट और 5 राज्य मंत्री समेत 9 अन्य मंत्रियों को शपथ दिलाई गई थी. वहीं दो मंत्री बाबूलाल गौर और सरताज सिंह को उम्र का हवाला देकर मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया गया था. अब ये फेरबदल पूरी तरह से जातियों और क्षेत्रीय समीकरणों में तालमेल बैठाने के लिए होगा. जिसमें ऐसी जातियों के विधायकों को भी तवज्जो मिलेगी. जिनता सत्ता और संगठन में प्रतिनिधित्व कम था.

वहीं शिवराज सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर कांग्रेस ने उपचुनाव को प्रभावित करने का आरोप लगाया है…इसको लेकर कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से शिकायत की है…निर्वाचन आयोग ने राज्य सरकार से मंत्रीमंडल के विस्तार की पुष्टी को लेकर जानकारी मांगी है…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here