कांग्रेस के पास जिताऊ उम्मीदवार नहीं और भाजपा में अंतर्कलह हावी!

0
210
इस बार के लोकसभा चुनाव की तस्वीर धुंधली नजर आ रही है। मध्यप्रदेश में दोनों ही दल (भाजपा और कांग्रेस) पूरी तैयारी कर चुके हैं,लेकिन दोनों की समस्याएं अलग-अलग हैं। विधानसभा चुनाव में पूरी ताकत लगा चुकी कांग्रेस के पास दो तीन सीटों को छोड़ दें, तो लायक उम्मीदवार नहीं हैं। बेटा या पत्नी ही काग्रेस के पास जिताऊ उम्मीदवार हैं।
बीजेपी में कुछ और ही चल रहा है। यहां उम्मीदवार हैं, लेकिन कलह इतनी हावी है कि सोचने समझने की शक्ति ही कमजोर हो गई।
दरअसल पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने जो जमावट की थी उस कारण आज भाजपा कमजोर है। हाल ही में भोपाल भाजपा जिला अध्यक्ष को लेकर जो हुआ वो एक वानगी भर है। शिवराज समर्थकों को हासिए पर लाने के लिए केंद्रीय नेतृत्व को पसीना आ रहा है। सालों की जमावट हटाने में भले ही समय कम लगे, लेकिन उसे जमाने में समय ज्यादा लगेगा।
वरिष्ठ पत्रकार नितिन दुबे की फेसबुक वॉल से

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here