[Bhopaltoday] स्विट्जरलैंड के दावोस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि, उनके लिए अमेरिका सबसे पहले (America first) है, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि, अमेरिका अकेला है. उन्होंने कहा कि, हम मुक्त व्यापार का समर्थन करते हैं, लेकिन इसके लिए जरूरी है कि यह निष्पक्ष होना चाहिए. उन्होंने कहा कि, मुक्त व्यापार के लिए दोनों ओर से निष्पक्षता जरूरी है.

इस दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि, अगर अमेरिका आगे बढ़ता है, तो दुनिया आगे बढ़ती है. यदि कुछ देश सिस्टम का दुरुपयोग करते हैं, तो मुक्त और खुला व्यापार का समर्थन नहीं कर सकते हैं.

उन्होंने कहा कि, ‘मैं यहां पर अमेरिका के लोगों के हितों का प्रतिनिधित्व करता हूं. साथ ही इस बात की पुष्टि करता हूं कि, अमेरिका के दोस्त और  सहयोगी दुनिया को बेहतर बना रहे हैं.” उन्होंने कहा कि, हर बच्चे का लालन-पालन हिंसा, गरीबी और भय मुक्त माहौल में हो. ट्रंप ने कहा कि, हम अपने सहयोगी देशों के साथ मिलकर ISIS जैसे आतंकी संगठनों का विनाश करने के लिए काम कर रहे हैं. इस दौरान ट्रंप ने मीडिया कड़ी आलोचना भी की.

आपको बता दें कि, इससे पहले पीएम मोदी ने वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम को संबोधित करते हुए आतकंवाद, जलवायु परिवर्तन और संरक्षणवाद को दुनिया के सामने तीन सबसे बड़ी चुनौती बताया था. पीएम मोदी के दावोस में दिए गए भाषण की दुनियाभर में चर्चा हुई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *