‘दुनिया की सबसे ज्यादा कृषि विकास दर 18 प्रतिशत मध्यप्रदेश की’

0
119
भोपाल| भोपाल में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मोदी सरकार के 4 सालों को लेकर संबोधित किया. उन्होंने आयुष्मान भारत योजना को ऐतिहासिक कदम बताया है और कहा कि, इलाज के लिए गरीब को परेशान नहीं होना पड़ेगा. जो विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सहायता योजना है.
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, भ्रष्टाचार पर लगाम कसने के लिए प्रयास किये जा रहे है, सिस्टम में ट्रांसपेरेंसी लाकर भ्रष्टाचार कम करने की कोशिश की गई है. उन्होंने कहा कि, घर-घर बिजली पहुंचाने का हमारा जो लक्ष्य है, उसे 31 दिसंबर 2018 तक पूरा कर लेंगे. पेट्रोल डीजल की बढ़ी कीमतों पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि, जनता को लेकर सरकार गंभीर है, जनता पर ज्यादा बोझ नहीं पड़ने देंगे. उन्होंने कहा कि, एक सर्वे रिपोर्ट में भारत दुनिया की टॉप-7 अर्थव्यवस्था में है. इसी वित्त वर्ष में भारत टॉप-5 में आएगा.
उन्होंने कहा कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व में भारत विश्व में आर्थिक शक्ति के रूप में उभर कर सामने आया है और रक्षा, तकनीकी जैसे क्षेत्रों में हमारी आत्मनिर्भरता बढ़ी है. उन्होंने कहा कि, इन्फ्रास्ट्रक्चर के मामले में भारत ने अभूतपूर्व प्रगति की है. यदि इसी तरह बुनियादी ढांचों पर निवेश होता रहा तो, आने वाले समय में भारत के बजट का 4 गुना हो जायेगा.
केंद्रीय मंत्री ने मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान की तारीफ करते हुए कहा कि, मध्यप्रदेश के निवासियों को इस बात का गर्व होना चाहिए कि उन्हें शिवराज सिंह जैसा मुख्यमंत्री मिला है, जिनके प्रयास से दुनिया की सबसे ज्यादा कृषि विकास दर 18 प्रतिशत मध्यप्रदेश में बनी हुई है. उन्होंने कहा कि, दुनिया में कहीं भी कभी भी कृषि विकासदार 18% नहीं रही. मध्यप्रदेश ऐसा करने वाला पहला राज्य है. उन्होंने कहा कि, मध्यप्रदेश सहित पूरे देश में जिस आन्दोलन को किसानों का बताया जा रहा है, वो किसानों का नहीं, बल्कि किसान विरोधी लोगों की साजिश है.
साथ ही कहा कि, सीएम शिवराज सिंह चौहान लगातार किसान हित में काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि, सीएम शिवराज ने शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण के बाद भावांतर भुगतान योजना जैसा कदम उठाया है, जिससे प्रदेश में खेती लाभ का धंधा बन रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here