भोपाल (सनव्वर)।
गर्मियों में अक्सर मौसम बदल जाने के कारण डॉग्स की खुराक पर खासा असर पड़ता है। ऐसे में आपकों विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है, ताकि गर्मी के कारण पेट बीमार न पड़ जाएं। गर्मी में जब बाहर का तापमान बढ़ता है, तो आपका पेट भी ओवरहीट होने लगता है। उसे डिहाइड्रेशन और हीटस्ट्रोक जैसी कई परेशानी होने लगती है। इसके अलावा बाहरी गर्मी में अपने बॉडी टेम्प्रेचर को मेंटेन रखने के लिए भी कुत्तों की काफी एनर्जी खर्च होती है। ऐसे में जरूरी है कि गर्मी के दौरान वे भरपूर खाएं ताकि उन्हें पर्याप्त न्यूट्रिशन और एनर्जी मिलती रहे। शहर के पेट्स एक्सपर्ट का कहना है कि समर में पेट्स खाना बंद कर देते हैं। इसके लिए मार्केट में जरहाई फूड आते हैं जिसे आप खाने में डाल कर खिला सकते हैं जिसके उन्हें पर्याप्त न्यूट्रिशन और एनर्जी मिलती रहेगी।

पेट्स को दूध नहीं, दही दें
सिटी के पेट्स एक्सपर्ट विष्णु दत्त बताते है कि इस सीजन में पेट्स को दूध, अंडा और नानवेज नहीं देना चाहिए। बल्कि उन्हें मार्टिंग टाइम दही ही खिलाएं। उन्हें गर्मी में हवा देने की जरूरत होती है, इसलिए सुबह घुमाने के लिए 5 से 9 सही समय हैं। याद रखें कि दोपहर 12 से शाम 5 बजे तक घर से बाहर न निकाले वरना उन्हें लू लग सकती हैं।

रेडीमेड हाउसेज और बैड्स अवेलेबल
लैब्राडोर क्लअ ऑफ भोपाल के सेक्रेटरी कमलेश कुमार बताते है कि पेंट्स के लिए समर रेडीमेड प्रोडेक्ट भी अवेलेबल होते हैं। इन दिनों बैड्स और हाउसेज की डिमांड ज्यादा होती है। इनकी खासियत यह रहती है कि इनके नीचे प्लास्टिक लगी होती है और वो नीचे से ओपन रहती है, जिससे उन्हें हवा लगती रहती है।

विकेशन में जाते समय कैनल में छोड़े
पेट्स एक्सपर्ट पीयूष बताते है कि अक्सर लोग समर में विकेशन में जाने से पहले पेट्स को घर में ही छोड़ देते हैं। जिससे उन्हें घर में एसी की हवा और समय पर डाइट नहीं मिल पाती। इसलिए उन्हें शहर के अच्छे पेट्स कैनल में छोड़ देना चाहिए। जिससे उन्हें अच्छी फेसिलिटी मिल सके और वे बिमार न हो पाएं।

कब दें और कितना दें
एक्सपर्ट के मुताबिक हो सके तो अपने पेट को दिन के सबसे ठंडे समय में ही भाजन करवाएं और धीरे-धीरे करके उनके खाने का समय बढ़ाते जाएं। अपने पेट की रोजमर्रा की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए उन्हें उसी अनुसार भोजन देना शुरू करें। हमेशा यह ध्यान रखें कि आप अपने पेट को पर्याप्त मात्रा में उसकी जरूरत के मुताबिक भोजन दें। इससे वह काफी फ्रैश भी नजर आएगा।

उनकी गतिविधियों पर ध्यान दें
एक्सपर्ट कहते है कि हर सप्ताह अपने पालतू जानवर का वजन और बॉडी कंडिशन चेक करते रहें। उसी के मुताबिक उन्हें खाना देते रहे। गर्मी के दौरान उन्हें डिहाइड्रेट होने से बचाने के लिए उन्हें ज्यादा से ज्यादा पानी पिलाते रहें। अपने पेट को बाहर घुमाने या एक्सरसाइज कराने तभी बाहर निकाले जब ठंडा मौसम हो। याद रखें कि गर्मियों में आपका पेट खाना खाने में कोई रुचि नहीं जताएगा, लेकिन आपको उसकी डायट में अलग-अलग तरह के विकल्प शामिल करने होंगे। साथ ही यह भी ध्यान रखें कि वह एक साथ सारा खाना ठूस न ले बल्कि धीरे धीरे चबा-चबा कर खाए ताकि उसका आसानी से खाना पच सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *