भोपाल(Sanawer) : 

देश और विदेशों के नाटककारों, निर्देशकों, अभिनेताओं, लेखकों, रंगमंडलियों और विभिन्न नाट्य संस्थाओं की उत्कृष्ट प्रस्तुतियों से रूबरू होने का मौका इस बार भोपालवासियों को मिलेगा.

क्योंकि देश के रंगप्रेमियों को विभिन्न भाषाओं और विभिन्न देशों के रंगमंच से परिचित कराने के उद्देश्य से देश में 8वां थिएटर ओलंपिक का आयोजन 17 फरवरी से किया जा रहा है. यह पहला मौका होगा कि, जब में खेलों के ओलंपिक्स के बाद थिएटर ओलंपियाड हो रहा है.

8 अप्रैल तक चलने वाले यह ओलंपियाड केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय की ओर से आयोजित किया जा रहा है. वहीं थिएटर ओलंपियाड के लिए नेशनल स्कूल ऑफ  ड्रामा (एनएसडी) ने देश की विभिन्न संस्थाओं से बेस्ट नाटकों को आमंत्रित किया है. इसके साथ ही ओलंपिक देश के विभिन्न 15 शहरों, दिल्ली, मुंबई, जयपुर, भोपाल, अहमदाबाद, गुजरात सहित अन्य शहरों में आयोजित किया जाएगा.

15 शहरों के साथ भोपाल में भी प्रस्तुति

मिली जानकारी के अनुसार थिएटर ओलंपियाड के लिए कुल 15 शहरों का चयन किया गया है. जिसमें मप्र में भोपाल के भारत भवन में भी नाटकों की प्रस्तुति होगी. भोपाल में दो दिन तक फेस्टिवल से जुड़ी तमाम तैयारियों को नाटकों का चयन होने के बाद ही प्रस्तुति होगी.

देश-विदेशों की होगी प्रस्तुतियां

थिएटर ओलंपिक में देश और विदेश के नाटककारों, निर्देशकों, अभिनेताओं, लेखकों, रंगमंडलियों सहित विभिन्न नाट्य संस्थाओं की उत्कृष्ट प्रस्तुतियों का मंचन किया जाएगा। 

1993 में शुरू हुआ था ओलंपियाड

आपको बता दें कि, ओलंपियाड की शुरुआत 1993 में ग्रीस देश से हुई थी.जहां ग्रीक थिएटर डायरेक्टर थियोडोरस टेरजोपोलुस ने इसकी शुरुआत की थी. पिछले कुछ सालों से यह हर दो साल में आयोजित किया जा रहा है. यह एक थिएटर एक्सचेंज का बड़ा प्लेटफॉर्म है. जो अब तक डेल्फी, शिजुका, मास्को, इस्तांबुल, सियोल और बीजिंग, पोलेंड इसका प्रतिनिधित्व कर चुके है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here