मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का लाभ लेने के लिए पढ़े

भोपाल| युवाओं को स्वयं के उद्योग-व्यवसाय शुरू करने में मदद के लिए मुख्यमंत्री युवा स्व-रोजगार योजना लागू की गई है. योजना में 50 हजार युवा को सहायता देने का लक्ष्य है.

योजना का क्रियान्वयन ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग तथा शहरी क्षेत्रों में वाणिज्य, उद्योग और रोजगार विभाग के माध्यम से किया जाएगा.

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना  के लिए पात्रता-

इस योजना का लाभ वही व्यक्ति ले सकता है,  जो व्यक्ति मध्य प्रदेश स्थायी निवासी ही वह सभी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में जो आवेदन कर रहा है उस आवेदनकर्ता कम से कम 5 वीं क्लास पास किया हुआ होना चाहिए.

आवेदनकर्ता की आयु 18-45 वर्षों के मध्य होनी चाहिए.

व्यक्ति या उसका परिवार पहले से इनकम टैक्स नहीं देता हो, और किसी उद्योग से सम्बंधित न हो.

आवेदक किसी राष्ट्रीयकृत या निजी क्षेत्र के बैंकों द्वारा Defaulter घोषित नहीं किया गया होना चाहिए.

आवेदक पहले से किसी राज्य में चलने वाली योजनाओं के तहत सहायता प्राप्त करने वाला नहीं होना चाहिए.

यह योजना केवल उद्योग / सेवा कंपनी / व्यवसाय स्थापित करने के लिए उपलब्ध है.|

इस योजना का लाभ व्यक्ति एक ही बार ले सकता है.

 

इस योजना के तहत आप जो भी रोजगार चालू करना चाहते है उसकी अनुमानित लागत 50  हजार से 10 लाख रुपये के बीच होनी चाहिए.

सामान्य वर्ग को योजना के पूरे अमाउंट का १५ प्रतिशत भुगतान किया जाएगा ( अधिकतम 1 लाख).

गरीबी रेखा से नीचे आने वाली , अनुसूचित जाति /जनजाति / OBC / महिला / निः शक्तजन को 30 प्रतिशत (अधिकतम 2 लाख ), रुपये की  की सब्सिडी मिलेगी.

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में परियोजना लागत  पर ब्याज अनुदान 5 प्रतिशत की दर से दिया जाएगा, प्रति वर्ष (अधिकतम 25000 रुपये).

स्वरोजगार योजना के तहत आपको 7 साल के लिए गारंटी शुल्क का भुगतान वर्तमान दर पर किया जाएगा.

राज्य सरकार परियोजना लागत (50 हजार) का 20% मार्जिन मनी के रूप में या अधिकतम 10 हजार रुपए एक मुस्त में प्रदान करेगी.

आवेदन  MPonline से हितग्राही सीधे एम.पी.ऑनलाइन के माध्यम से अपने आवेदन-पत्र आन लाइन जमा करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here