शीर्षेंदु सर हैं मेरे आदर्श : जैकी श्मिट

0
136

टाईग्रेस ग्रुप की सेक्रेटरी जैकी श्मिट बूश्श ड्राइव पर अपने अनुभव पर भावुक हो गईं। उन्होंने कहा कि वह जीवन से बिल्कुल थकी हुई थीं जब उनकी मुलाकात शीर्षेंदु से हई और सर ने उन्हें नया जीवन दिया।वह कहती हैं कि वह कभी किसी के सामने अपनी मनोदशा व्यक्त नहीं कर पाती थी मगर सर में एक अलग आकर्शन और गार्जियनशिप है,आप उनके सामने हर कुछ बोल देते हैं। उन्होंने मुझसे बहुत काम करवाया, शुरू में इरीटेशन और थकान होती थी मगर जब कार्य करते करते कोई जरूरतमंद धन्यवाद करता है तब एक अनोखी उर्जा मिलती है। मेरी मित्र मिकायला को भी बहुत धन्यवाद जो खुद सर की बहुत बड़ी प्रशंसक हैं और मेरी उनसे मुलाकात करवाई।सर जब भी किसी कार्य के लिए याद करते हैं तब खुद पर गर्व होता है और मुझे लगता है कि धरती पर मैं अकेली नहीं हूं। जैकी ने बताया कि शीर्षेंदु भारद्वाज किताबों में डुबे रहने वाले और एकांत में रहने वाले व्यक्ति हैं, जिनके लिए काम करने से मन को बहुत शांति मिली।मुझे किसी कार्य के लिए योग्य समझने हेतु धन्यवाद,यह समय मेरे जीवन का सबसे खूबसूरत लम्हा है इसलिए वह आजीवन इस खुबसूरती को महसूस करती रहना चाहती हैं। जैकी ने सभी कार्यकर्ताओं को भी धन्यवाद कहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here