संदीप तुमने पत्रकरिता के लिए बलिदान दिया है…

शिव'राज' में ये कैसा सिस्टम?

भिंड में रेत माफ़िया और पुलिस का गठजोड़ का स्टिंग कर के भंडाफोड़ करने वाले पत्रकार संदीप की डम्पर से कुचलकर हत्या कर दी गई.संदीप भोपाल में न्यूज वर्ल्ड चैनल में स्टिंगर थे.

स्टिंग में भिंड के एसडीओपी से अवैध रेत को लेकर लेनदेन की बातचीत थी और एसडीओपी के गार्ड को पैसे भी दिए थे एडवांस के तौर पर.

क्या है कहानी पीछे की….

“जैसे ही ये खबर आई उस समय इसे जल्दी से बुलेटिन में चलाया गया जिसमें वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को फोन पर जोड़ा था और खुद संदीप भी फोन पर जुड़े थे. और साथ ही स्थानीय विधायक हेमंत कटारे भी जोड़ा गया था. खबर दिखाए जाने के बाद एसडीओपी ने नोटिस भिजवाया गया था. इसके बाद से लगातार संदीप को जान से मारने की धमकी भी मिलने लगी थी जिसकी शिकायत संदीप ने स्थानीय अधिकारियों से लेकर मुख्यमंत्री तक से सुरक्षा की मांग की थी. लेकिन जिम्मेदारों ने उन्हें सुरक्षा देने की जरूरत नही समझी.

आज जब में 12 बजे का बुलेटिन करने निकला तो सोचा अब तो सीधे 3 का बुलेटिन करुंगा बचा है इतने में पता चलता है कि अगला बुलेटिन मुझे ही करना है जब कारण पूछा गया तो बताया गया एक रिपोर्टर की हत्या हो गई है.

जब बताया गया भिंड का रिपोर्टर था और इतना सुनते ही दीपावली के समय का माज़रा जहन में आ गया और अचानक से में बोल पड़ा अरे ये तो वहीं है जिन्होंने स्टिंग किया था.

अपने साथी की मौत की वजह से इस सिस्टम पुलिस प्रशासन और सरकार के प्रति आक्रोश आ गया था और जब बुलेटिन शुरू हुआ तो सबसे पहले हमारे भिंड के दूसरे संवाददाता को फोन पर जोड़ा गया पूरी जानकारी ली और उसके बाद जिस थाने के समीप एक्सीडेंट हुआ है उसके थाना प्रभारी जुड़े और इस सामान्य एक्सीडेंट बताया. भिंड के एसपी को भी फोन पर जोड़ा जब उनसे प्रश्न किया कि संदीप ने सुरक्षा की मांग की थी तो सुरक्षा क्यों नहीं दी गई तो उनका कहना था कि, हम वो कागज दिखवा रहे है जिसमे उन्होंने मांग की थी लेकिन जब मैने पूछा साहब अब कागज़ ढूंढने का क्या मतलब जब मांग की थी मांग पूरी कर देते तो आज ये दिन नहीं आता इतना सुनकर एसपी साहब ने अपना फोन काटा और चलते बने.”

जैसा की न्यूज एंकर सचिन श्रीवास्तव ने बताया

 

देखे कैसे ट्रक ने कुचला संदीप को

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here