न7 हजार अरबपतियों ने छोड़ा अपना वतन
7 हजार अरबपतियों ने छोड़ा अपना वतन

न्यू वर्ल्ड वेल्थ की रिपोर्ट के मुताबिक 7 हजार रिच भारतीयों  ने 2017 में भारत छोड़ा है. इससे पहले 2016 में 6 हजार धनकुबेरों ने भारत से दुसरे देश में पलायन किया है. ये आंकड़ा 2016 की तुलना में 16 प्रतिशत ज्यादा है. पलायन करने वाले अमीर लोग अमेरिका को सबसे ज्यादा पसंद कर रहे हैं इसके बाद यूएई, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड अमीर लोगों की सबसे पसंदीदा लिस्ट में है.

ये धनकुबेर भारत छोड़ कर इन देशों की नागरिकता ले रहे हैं.वहीं इस मामले में भारत से पहले चीन का नंबर आता है. जहां 2017 में चीन से 10 हजार  सुपर रिच लोगों ने चीन छोड़कर दुसरे देश की नागरिकता ग्रहण की है.चीन का बाद भारत का नंबर आता है. और इसके बाद तुर्की का नंबर आता है जहां 6 हजार लोगों ने देश छोड़ा है. ब्रिटेन से 4 हजार , फ्रांस से 4 हजार और रूस से 3 हजार रिच लोगों अपने देश को छोड़ा है.

वहीं चीनी अरबपतियों की मानें तो चीन की व्यापार नीति और चाइल्ड पॉलिसी का असर है जिससे अरबपति चीन से तौबा कर रहे है. हालाकि चीन ने चाइल्ड पॉलिसी में ढील दी है. लेकिन इसका असर नहीं दिखाई दे रहा है. साथ ही चीन के अरबपति अमेरिका को ज्यादा सेफ मानते है.

वहीं भारत पलायन के मामले में दुनिया में चीन के बाद दूसरे नंबर पर है भारत की कुल 73 प्रतिशत संपत्ति 1 फीसदी लोगों के पास है. और इनमें से अब 7 हजार लोग 2017 में देश से बाहर चले गए. हालांकि रिपोर्ट के मुताबिक  जितने अरबपति बाहर जा रहे हैं उससे ज्यादा अरबपति देश में बन रहे हैं.जिससे पलायन का ज्यादा असर नहीं पड़ेगा.

साथ ही कहा गया है कि, देश में जैसे-जैसे रहन-सहन का स्तर सुधरेगा लोग वापस भी आने लगेंगे. और इसके साथ ही विदेशी लोग भी यहां के कल्चर में रम सकते है.भारत में 3 लाख से अधिक लोगों क पास एक मिलियन डॉलर से ज्यादा की संपत्ति है. ये आर्थिक समानता के लिए एक सोचने वाली बात है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here